www.dharmtoronto.com व्यंग्य थानों की मुहर बंद निविदाएँ

थानों की मुहर बंद निविदाएँ



सभी डिवीजनों के विशेष थानों में थानेदारों की पोस्टिंग करने हेतु प्रशासनिक सुविधा के लिए मुहर बंद निविदाएँ आमंत्रित की जाती हैं। ये निविदाएँ ‘आइटम रेट’ पर ‘कम्पेटिटिव बिडिंग’ के अंतर्गत बुलाई जा रही हैं। इसमें ए, बी एवं सी श्रेणी के लिए सुपात्र (जिन्हें आगे निविदाकार कहा है) निविदाएँ प्रस्तुत कर सकते हैं। लाइन अटैच लोगों के लिए यह सुनहरा मौका है।

उद्देश्यः लघु, मध्यम, बड़े और शहरी थानाक्षेत्रों में कानून-व्यवस्था का सही तरह से भाजीपाला बनाना।

रुतबा अवधिः सफल निविदाकार को न्यूनतम एक वर्ष और अधिकतम दो वर्ष की अवधि के लिए वांछित थानेदार का प्रभार दिया जाएगा। इस अवधि में वर्षाकाल भी सम्मिलित है।

निविदा प्रपत्रः प्रपत्र कार्यालयीन समय के बाद पाँच सौ रु. नगद देकर खरीदा जा सकता है। एक निविदाकार चाहे जितने प्रपत्र खरीद सकता है। डाक द्वारा निविदा प्रपत्र भेजने और पाने की परंपरा नहीं है।

निविदा की भाषाः प्रपत्र हिंदी या अंग्रेजी में भरे जाएँ पर राशि के आँकड़े अंतर्राष्ट्रीय लिपि में हो। खोखा, पेटी आदि सांकेतिक शब्द मान्य हैं। दस पेटी से कम की निविदा भर कर अपना वक्त बर्बाद नहीं करें।

निविदा पूर्व बैठकः निविदा खुलने के पहले योग्य निविदाकारों की बैठक आयोजित की जाएगी। सभी निविदाकारों से आग्रह है कि वे आवश्यक एवं विस्तृत जानकारी रूबरू प्राप्त करें।

बयाना राशिः निविदा के साथ निविदाकार को दस हजार रुपये नगद जमा कराने होंगे। जिन निविदाओं के साथ यह राशि नहीं आएगी उन निविदाकारों को अनुत्तरदायी मानकर सस्पेंड करा दिया जाएगा।

निविदा का प्रस्तुतीकरणः निविदाएँ दो प्रति में प्रस्तुत करें। दूसरी प्रति डिवीजन में रहेगी एवं मूल प्रति ‘ऊपर’ जाएगी। किसी फर्क की स्थिति में मूल प्रति ही सही मानी जाएगी। मुहरबंद निविदाएँ एवं बयाने की राशि इस सूचना के प्रकाशित होने के एक सप्ताह के भीतर ही जमा करा दें। देरी से आने वाली निविदाएँ बिना खोले धारक को लौटा दी जाएँगी। कृपया फोन या वायरलेस द्वारा निविदाओं के बारे में पूछताछ नहीं करें।

निविदा वापसीः हम धोखेबाजी का धंधा नहीं करते हैं। निविदा खुलने के पहले कोई भी निविदाकार किसी भी समय बयाने की पूरी राशि समेत निविदा वापस ले सकता है। ऐसे निविदाकार आगे से अयोग्य माने जाएँगे। असफल निविदाकारों को बयाने की पूरी राशि तुरंत नगद दे दी जाएगी।

निविदा स्वीकृतिः निविदाकार के सफल होने की सूचना वायरलेस से दी जाएगी ताकि वह दो दिन में निविदाधन जमा कराकर ट्रांसफर आदेश प्राप्त कर ले। यदि निविदाकार या उसका आदमी निविदाधन लेकर उपस्थित नहीं हुआ तो बयाने की राशि राजसात कर ली जाएगी एवं निविदाकार को लाइन अटैच करा दिया जाएगा।

विशेषः सामान्यतः अधिकतम राशि की निविदा ही स्वीकार की जाएगी। निविदा को स्वीकृत या निरस्त करने का अधिकार सिर्फ सक्षम प्राधिकारी का होगा, अस्वीकृति के कारण कदापि नहीं बताए जाएँगे।

नोटः अन्य विभागों की निविदाओं के बारे में कृपया संबंधित विभागों से ही जानकारी प्राप्त करें। अन्य विभागों के निविदाकार जब निविदाधन देने जाएँ तो अपने निकटस्थ थानेदार को अवश्य सूचित करें व इनाम पायें। कृपया नोट करें कि सीबीआई, लोकपाल, मंत्रीजी या मीडिया को इस संबंध में परेशान नहीं करें। यह आचार संहिता का उल्लंघन करने के समकक्ष होगा।

अट्टहास के दिसंबर 2020 अंक में प्रकाशित

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *