Tag: अ – अधिकार

अ – अधिकार काअ – अधिकार का

वह था ग़रीब क्या मालूम ग़रीब पैदा हुआ था या हालात् ने कर दी थी यह हालत कुछ तो हुआ होगा अन्याय वरना उसके हिस्से भी वही सूरज था वही नदी थी, वही हवा थी फिर कहाँ हो गई चूक? ...