Month: August 2020

साहब के दस्तख़तसाहब के दस्तख़त

हम साहब के बड़े क़द्रदाँ हैं। जब भी उनके चेम्बर में उनकी झलक मिलती है, हमारी भोज्य पाई फाइलों में कागज़ात उफनने लगते हैं। कागज़ात साहब के पेन का स्पर्श पा वैतरणी पार करना चाहते हैं, इसलिए तारक मुद्रा में ...

सर क्यों दाँत फाड़ रहा है?सर क्यों दाँत फाड़ रहा है?

इन दिनों पुलिस की पूछताछ चल रही है। पुलिस वालों को पुलिस वाले ही डंडे मार रहे हैं और जनता देख रही है। अख़बार वाले छाप रहे हैं। सरकार कुछ करने के बजाय खट्टे-मीठे चटखारे ले रही है। अभी तक ...

बागड़बिल्लों का नया धंधाबागड़बिल्लों का नया धंधा

प्रधानमंत्री कह रहे हैं हमारी सीमा में कोई नहीं घुसा। अप्रधानमंत्री कह रहे हैं दुश्मन हमारी सीमा में घुसा। रातों-रात देश में लाखों सीमा विशेषज्ञ उग आए हैं। फौज के भर्ती दफ्तरों पर भीड़ नहीं है पर टीवी चैनलों पर ...